बथुआ की कढ़ी - Bathue ki Kadhi Recipe

जाड़ों में मिलने वाली पोस्टिक बथुए की पत्तियों से दही और बेसन के साथ कुछ मसालों को मिला कर इस स्वादिस्ट कढ़ी व्यंजन को बनाया गया है।
कढ़ी बनाने की सामग्री:-
  • 100 ग्राम बथुआ की पत्तियां
  • 250 ग्राम दही (खट्टा)
  • 4 चम्मच बेसन
  • 1 चम्मच राई दाना
  • ¼ चम्मच हल्दी (पाउडर)
  • 1 चुटकी हींग
  • 2 हरी मिर्च (बारीक कटी हुई)
  • 1 चम्मच अदरक का पेस्ट
  • 10 करी पत्ते
  • ½ चम्मच लालमिर्च (पाउडर)
  • 2 लाल मिर्च (साबुत)
  • 1 चम्मच अदरक के टुकड़े
  • नमक स्वादानुसार
  • 2 चम्मच तेल
कढ़ी बनाने की विधि:-
  • सबसे पहले आप बथुआ साफ करके धो लें और थोड़े बथुए को बारीक काट कर अलग रख लें।
  • बाकी बथुआ को मिक्सर में थोड़े पानी के साथ डालकर उसका पेस्ट तैयार कर लें।
  • कटे हुए बथुए को एक बर्तन में गैस पर रखकर थोड़ा पानी डाल दें और एक उबाल आने तक पकाएं।
  • फिर बथुए को पानी से निकाल कर अलग रख दें।
  • इसके बाद आप दही को अच्छी तरह फेंट लें। अब इसमें एक ग्लास पानी और बेसन को मिला लें।
  • (दही में बेसन की गांठें नहं रहने चाहिए।)
  • अब आप एक कढ़ाई में तेल गर्म करें और इसमे राई के दाने और हींग डालकर तड़का लें।
  • तेल में करी पत्ते, हरी मिर्च, हींग पाउडर, लालमिर्च पाउडर और हल्दी डालकर अच्छी तरह भून लें।
  • अब आप इस तैयार तड़के में पीसा हुआ बथुआ डाल दें और मध्यम आंच पर 2 मिनट तक पकने दें।
  • इसके बाद आप कढ़ाई में बेसन और दही का घोल के साथ उबाली हुई बथुए की पत्तियों को डालें और दूसरे हाथ से मिश्रण को लगातार चलाती रहें। कढ़ी में एक उबाल आने दें।
  • फिर आप इस कढ़ी में नमक मिलाएं और धीमी आंच पर 10 मिनट तक पकने दें।
  • जब कढ़ी अच्छे से पक जाए तो गैस बंद कर दें।
  • आपकी स्वादिस्ट गर्मागर्म बथुए की कढ़ी को तैयार हो गई है, सर्विंग बाउल में निकालें और चावल और रोटी के साथ सर्व करें।
उपयोगी सुझाव:-
  • अगर आप थोड़ा तीखा खाना पसंद करते हैं तब थोड़ी लाल मिर्च का पाउडर ज्यादा डाल दें।
  • जिस भी ग्रेवी में दही का उपयोग होता है, उसे फ्रिज से निकाल कर तुरंत इस्तेमाल न कीजिए इससे दही फट जाता है। दही ग्रेवी को नार्मल तापमान आने पर उपयोग करें।
  • आप इसमें प्याज का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। एक प्याज बारीक काट कर जीरा तड़कने के बाद डालकर भून लीजिए।
  • आप तेल या घी दोनों में से किसी का भी अपनी पसंद के अनुसार उपयोग कर सकते हैं।
  • यदि आप चाहें कढ़ी में बेसन की पकोड़ी या बूंदी भी डाल सकते हैं, जिससे कढ़ी और भी स्वादिस्ट बनेगी।