मिष्टी दोई - Mishti Doi Recipe

आज हम आपको बंगाली मिष्टी दोई बनाने की विधि (रेसिपी) बता रहे हैं। कैरेमलाइज (शक़्कर का भूरा रंग) की हुई चीनी को मिलाकर, मलाईदार गाढ़ा दूध को जमाकर बनाई हुई मिष्टी दोई बंगाल की खास मिठाई है। इसको आसानी से बनाने के लिए रेसिपी को फॉलो करें। बंगाली मिष्टी दोई बनाने के लिए निम्न सामिग्री की आवश्य्कता होती है..
मिष्टी दोई बनाने की सामग्री:-
  • 1 लीटर फुल क्रीम दूध
  • 5 इलायची (पाउडर)
  • 5 चम्मच दही
  • 100 ग्राम चीनी
मिष्टी दोई बनाने की विधि:-
  • सबसे पहले दूध को एक भारी तले के बर्तन में डालकर तेज आंच पर उबाल आने तक गरम कर लीजिए।
  • जब इसमें उबाल आने लगे, तब आग को मध्यम कर दीजिए और दूध को चलाते हुए आधा/गाढ़ा होने तक उबालते रहिए।
  • दूध को अच्छी तरह से बराबर चलाना जरूरी है, ताकी यह बर्तन के तले पर चिपके नहीं।
  • जब दूध उबल कर गाढा़ और आधा रह जाए तब गैस को बंद कर दीजिए, और इसमें आधी चीनी और इलायची का पाउडर को भी मिला दीजिए।
  • चीनी को कैरेमलाइज (शक़्कर का प्राकृतिक रंग) करने के लिये एक बर्तन में चीनी डालकर मध्यम आंचपर गरम कीजिये।
  • अब आप चीनी को चमचे से लगातार चलाते रहिये। थोड़ी देर में चीनी पिघलना शुरू हो जायेगी।
  • चीनी अच्छी तरह पिघलने पर कैरेमलाइज हो जायेगी। कैरेमलाइज हो जाने पर इसे दूध में डालकर अच्छी तरह से मिला दीजिए।
  • कैरेमलाइज चीनी मिले दूध को जमाने के लिए मिट्टी के बने कुल्हड़ या कोई छोटा बर्तन ले लीजिए।
  • अब आप इसमें दूध को डाल दीजिए। ध्यान रहे की दूध न ज्यादा गर्म हो और न ज्यादा ठंडा। दूध को मध्यम गरम होना चाहिए।
  • दूध से भरे कुल्हण में दो चम्मच दही की डालकर इसे मिला लीजिए, और तोलिये से ढककर जमने के लिए किसी गर्म स्थान पर रख दीजिए।
  • दूध को अच्छी तरह से जमने में दस घंटों का समय लग जाता है।
  • दूध के जम जाने के बाद आपका स्वादिस्ट मिष्टी दोई तैयार है। ठंडा स्वादिष्ट मिष्टी दोई को कटे हुए मेवे से सजाकर सर्व करें।
उपयोगी सुझाव:-
  • आप कुल्हड़ की जगह कोई भी छोटा बर्तन ले सकते हैं। जिसमे दही जम सके।
  • चीनी को करेमेलाइज़्ड करने के बाद चीनी का रंग भूरा हो जाता है, जिससे मिस्टी दोही का रंग प्राकृतिक भूरा हो जाता है।
  • आप इसको फ्रिज में दो दिनों तक स्टोर कर सकते हैं।