चावल के पापड़ - Rice Papad Recipe

घर पर ही आसानी से चावल के पापड़ बनाने की विधि (तरीका) (Rice Papad Recipe) बता रहे है। लिज़्ज़त जैसे चावल के पापड़, इनका कुरकुरा स्वाद हमेशा याद रहता है इनको घर पर बनाना बहुत भारी नहीं है। बनाने के लिए हमें निम्न सामिग्री की आवश्य्कता होती है...
चावल के पापड़ बनाने की सामग्री:-
  • 1 कप चावल का आटा
  • नमक (स्वादानुसार)
  • 1/2 चम्मच जीरा
  • तेल – ( तलने के लिये)
चावल के पापड़ बनाने की विधि:-
01: सबसे पहले एक बड़े बर्तन में चावल का आटा लेंगे।
02: चावल के आटे में थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए पतला घोल तैयार करेंगे (ध्यान रहे घोल बनाते समय गुठलियां ना पड़े)।
03: अब चावल के घोल में जीरा और स्वादानुसार नमक डाल कर आधे घंटे के लिए अलग रख देंगे।
04: अब एक बर्तन में पानी ले कर उसे तेज़ गरम करेंगे,ताकी पापड़ भाप में पक सके।
05: एक प्लेट लें ,जो इतनी बड़ी हो के गरम पानी के भगोने को ढक सके, प्लेट को हम तेल लगा कर चिकना कर लेंगे।
06: चावल का जो घोल तैयार किया है उसे एक बार फिर से चला लें ,ओर चिकनी की हुई प्लेट के ऊपर एक चम्मच डाल दें।
07: अब गरम पानी के भगोने के ऊपर यह प्लेट 2 मिनट के लिए रखेंगे और एक दूसरी प्लेट से उसे ढक देंगे।
08: दो मिनट के बाद आप देखेंगे की पापड़ का रंग बदल रहा है। अब पापड़ को थोड़ा ठंडा होने दें।
09: ठंडा होने के बाद आप चाकू की सहायता से प्लेट पर से पापड़ को छुटाएं , यह आसानी से प्लेट से बाहर आ जायेगा।
10: अब एक बड़ी पोलोथीन की पिन्नी बिछा कर उस पर पापड़ को सूखने के लिए डालें ,इसी प्रिक्रिया से आप सारे पापड़ तैयार कर लें। लग भग दो घंटों के अंतराल में पापड़ों को पलट दें। पापड़ों को सूखने में दो दिनों का समय लगेगा।
11:दो दिनों के बाद आपके चाबलों के पापड़ सूख कर तैयार हो गए हैं। सूखे हुए पापड़ों को आप एक बड़े कंटेनर में भर कर रख दें। यह साल भर खराब नहीं होंगे। (बरसात के दिनों में एक बार धुप में जरूर सुखा लें।)
12: अब इन पापड़ों को एक कढाई में घी गरम करके फ्राई करें।
13: लीजिये तैयार हो गए आपके चाबलों के भाप बाले पापड़, इन्हें आप चाय के साथ खाएं,पापड़ बहुत ही स्वादिस्ट और कुरकुरे लगेंगे।
उपयोगी सुझाव:-
  • गुथे हुये आटे को भाप में भी पकाया जा सक्ता हैं।
  • पपड़ को बहुत अधिक गरम तेल और एकदम कम गरम तेल में न तलें।
  • एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करके रखें।
  • बरसात के मौसम में एक बार स्टोर किये हुए पापड़ों को धुप में सुखा लें।